झाड़ू को सीधा क्यों नहीं रखना चाहिए?

आप सभी के घर में झाड़ू तो जरूर होगी। यूं तो झाड़ू सिर्फ साफ-सफाई के काम आने वाली वस्तु है लेकिन ज्योतिष में इसका बहुत महत्व माना जाता है। वहीं, हिन्दू धर्म में झाड़ू को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है।

आप सभी के घर में झाड़ू तो जरूर होगी। यूं तो झाड़ू सिर्फ साफ-सफाई के काम आने वाली वस्तु है लेकिन ज्योतिष में इसका बहुत महत्व माना जाता है। इसी कारण से घर में झाड़ू किस दिन लानी चाहिए से लेकर झाड़ू को कैसे रखने तक से जुड़ी कई महत्वपूर्ण बातों का वर्णन ज्योतिष में मिलता है। ठीक ऐसे ही आपने अपनी मम्मी या दादी-नानी से यह जरूर सुना होगा कि झाड़ू खड़ी करके मत रखो, लेकिन क्या आपको इसके पीछे का महत्व पता है। तो चलिए ज्योतिषाचार्य राधाकांत वत्स से आइये जानते हैं इसके पीछे का कारण।

झाड़ू को खड़ा करके रखने की क्यों है मनाही?

हिन्दू धर्म में झाड़ू को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है। इसी वजह से झाड़ू को पैर लगाने के लिए भी मना किया जाता है। वहीं, जिस प्रकार मां लक्ष्मी को बैठने की मुद्रा में स्थाई और खड़ी मुद्रा में चंचल माना गया है। ठीक वैसे ही झाड़ू को खड़ा करके रखना घर में दरिद्रता लाता है और लेटाकर रखना शुभता।

असल में ऐसा माना गया है कि मां लक्ष्मी की खड़ी मुद्रा इस बात का प्रतीक है मां लक्ष्मी अपनी कृपा बरसाकर उस स्थान से चली जाएंगी, लेकिन अगर वह बैठी मुद्रा में हैं तो उनकी कृपा निरंतर बरसती रहेगी। ऐसे ही झाड़ू अगर खड़ी करके रखी जाए तो इससे धन हानि होती है और तंगी पैदा होने लगती है।

वहीं, अगर झाड़ू को लिटाकर रखा जाए तो इससे घर में धन रुकता है यानी कि टिका रहता हिया उर धन में वृद्धि भी होती है। घर की आर्थिक स्थिति कभी नहीं बिगड़ती है। इसके अलावा, खड़ी झाड़ू नकारात्मकता को बढ़ावा देती है, जबकि लेटी हुई झाड़ू सकारात्मकता का संचार करने का काम करती है।

अगर आपको भी घर में झाड़ू को खड़े रखने की आदत है तो इस लेख में दी गई जानकारी के माध्यम से यह जान सकते हैं कि आखिर क्यों घर में कभी भी झाड़ू खड़ी करके नहीं रखनी चाहिए और क्या है इसके पीछे का तर्क। अगर हमारी स्टोरीज से जुड़े आपके कुछ सवाल हैं, तो वो आप हमें आर्टिकल के नीचे दिए कमेंट बॉक्स में बताएं। हम आप तक सही जानकारी पहुंचाने का प्रयास करते रहेंगे। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है, तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें NewsLiner से।

Leave a Comment